आईएस से जुड़े होने के शक में 9 संदिग्ध गिरफ्तार, छापेमारी में एसिड-पाउडर मिला

औरंगाबाद. महाराष्ट्र एंटी टेररिस्ट स्क्वाॅड (एटीएस) ने ठाणे के मुंब्रा से चार और औरंगाबाद से पांच संदिग्धों को गिरफ्तार किया। एटीएस ने दावा किया है कि ये सभी बेंगलुरु के संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के सदस्य हैं और आईएस मॉड्यूल पर काम कर रहे थे। मंगलवार देर रात पांच ठिकानों पर हुई छापेमारी में इनके कब्जे से एसिड, केमिकल, पाउडर और धारदार हथियार मिले।
एटीएस के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि गणतंत्र दिवस से पहले महाराष्ट्र में स्लीपर सेल के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत संदिग्धों की गतिविधियों पर बारीकी से निगाह रखी गई। इसके बाद 12 टीमें बनाकर छापे डाले गए।

आईएस से ट्रेनिंग लेने का शक

एटीएस को शक है कि सभी संदिग्धों ने अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन आईएस से प्रशिक्षण लिया है। सभी पढ़े-लिखे और संपन्न परिवार से ताल्लुक रखते हैं। एटीएस टीम ने उनके और परिजनों के मोबाइल फोन, सिम कार्ड और लैपटॉप भी जब्त कर लिए हैं।

इनकी हुई गिरफ्तारी

पीएफआई की औरंगाबाद शाखा से जुड़े मोहम्मद मजहर शेख, मोहसीन खान, फहाद शाह और तकी को मुंब्रा से पकड़ा गया। वहीं, औरंगाबाद से मोहम्मद मोहसिन, सिराज खान, सिराजुल्लाह खान, उसके 2 सालों सरफराज और मोहम्मद तकीउल्लाह को गिरफ्तारी हुई।

Comments are closed.