आदिवासी महिला से विवाह , परिवार परामर्श केंद्र में संपन्न

जीजा के साथ रहकर 2 बच्चों को जन्म देने वाली आदिवासी महिला से सोहागपुर के अविवाहित युवक ने किया विवाह

नवलोक समाचार,सोहागपुर।
यहां परिवार परामर्श केंद्र में काउंसलिंग के बाद एक युवक ने आदिवासी महिला से माला पहनाकर विवाह कर लिया। महिला के 2 बच्चे है , उन्हें भी युवक ने साथ रखने और भरण पोषण करने की बात स्वीकार की है।
बता दे कि सोहागपुर के अंबेडकर वार्ड निवासी हरिराम रघुवंशी जो कि अविवाहित था , उसकी जान पहचान उटिया जिला छिंदवाड़ा की माया भारती महिला से महीने 2 महीने पहले हो गई थी। दरअसल माया भारती रिस्ते में मुकेश भारती की सगी साली होती है , मुकेश की

परामर्श केंद्र की काउंसलर अलका पुरोहित सहित लक्ष्मी साहू , उमेश रघुवंशी की मौजूदगी में विवाह संपन्न

पत्नी से संतान न होने से उसने साली को साथ रख लिया और साली से 2 बच्चे पैदा हो गए , लेकिन मुकेश बच्चों और माया का भरण पोषण नही कर पा रहा था, उधर हरिराम की पहचान नजदीकी में बदलने के बाद दोनों पक्षों की ओर से विवाह करने के सम्बंध में आवेदन प्राप्त हुआ था । जिसके चलते दोनों पक्षों को परामर्श केंद्र में बुलाकर मामला को समझा और दोनों पक्षों की बात सुनकर हरिराम ने माया भारती जो कि पहले से 2 बच्चों की मां है से विवाह कर साथ रखने तैयार हो गया। जिसके चलते पुलिस विभाग के कर्मचारियों और मीडियाकर्मियों की मौजूदगी में दोनों ने एक दूसरे को वर माला पहनाकर विवाह कर लिया, अब हरिराम , माया ओर उसके दोनों बच्चों को साथ रखेगा ओर उनका भरण पोषण भी करेगा। उधर माया का जीजा मुकेश भी विवाह कराने परिवार परामर्श केंद्र आया था उसका कहना है कि माया साली है और उससे उसके 2 बच्चे है लेकिन मुकेश ने माया से कानूनन विवाह नही किया था। हरिराम से विवाह को लेकर उसका कहना है कि माया की इच्छा है तो उसे कोई आपत्ति नही है।परामर्श केंद्र में इस दौरान काउन्सलर अलका पुरोहित, लक्ष्मी साहू , उमेश रघुवंशी सहित महिला आरक्षक सुनीता पथोरिया मौजूद रहे।

Comments are closed.

Translate »