हम सरकारी काम करते है किसी के घर का नही – नपा कर्मचारी

नवलोक समाचार,सिवनी मालवा।

मध्यप्रदेश शासन का सप्ताह में 5 दिन काम करने का आदेश दोबारा लागू होते ही सिवनी मालवा नगर पालिका के अधिकारी और कर्मचारियों ने भी इसका पालन नगर पालिका में करने की मांग कर दी है। इसके साथ ही नगर पालिका अधिकारी व कर्मचारियों द्वारा मौलिक अधिकारों के अनुसार एवं शासन के निर्देशानुसार कार्य किए जाने के साथ ही विभिन्न समस्याओं के निराकरण की मांग करते हुए सीएमओ और नगर पालिका अध्यक्ष के नाम ज्ञापन भी दिया। नगर पालिका अधिकारी व कर्मचारी संघ के द्वारा दिए गए ज्ञापन की प्रति मानव अधिकारी आयोग, नगरीय प्रशासन व विकास आयुक्त, संभागीय आयुक्त, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, एसडीएम, संभागीय संयुक्त संचालक सहित प्रदेश अध्यक्ष कर्मचारी संघ भोपाल को भेजी जा रही है।

यह है नगर पालिका अधिकारी व कर्मचारियों की मांग
1. म.प्र. शासन सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय वल्लभ भवन भोपाल के आदेश दिनांक 20.12. 2022 का अवलोकन हो उक्त पत्र में यह निर्देशित किया गया है कि समस्त शासकीय कार्यालयों के कार्यदिवस सप्ताह में 05 दिवस (सोमवार से शुक्रवार) तक निर्धारित किया गया है। तदानुसार ही समस्त अधिकारी / कर्मचारियों से कार्य कराया जावें शासकीय अवकाश दिवस में कार्य कराये जाने से समस्त कर्मचारी मानसिक रूप से प्रताडित है एवं स्वयं के परिवार को भी समय नहीं दे पा रहे है जिससे अनावश्यक मानसिक प्रताडना एवं पारिवारिक कलह की स्थिति निर्मित हो रहीं है जो कि भारत शासन द्वारा प्रदत्त राष्ट्रीय मानवाधिकारों का भी स्पष्ट उल्लघन है।

2. समस्त जनप्रतिनिधियों को निर्देशित करें कि किसी भी प्रकार के कार्य / व्यवस्था के लिये मुख्य नगरपालिका अधिकारी / अध्यक्ष महोदय को पत्र के माध्यम से कार्य कराये जाने हेतु निर्देशित करें किसी भी कर्मचारी पर सीधा दबाब नहीं बनाया जावे। आमतौर पर कर्मचारियों पर अनावश्यक रूप से असमय (कार्यालीन समय से परे ) कार्य कराये जाने हेतु दबाब बनाया जाता है जो कि सर्वथा अनुचित है साथ ही साथ समस्त अधिकारी / कर्मचारियों से सभ्यता पूर्वक व्यवहार किया जावे उनके द्वारा नगरपालिका का कार्य किया जाता है स्वयं के घर का नहीं किया जाता जो कि उनके साथ असभ्यता व्यवहार किया जाता है। अतः अनुरोध है कि सभी से सभ्यता पूर्वक व्यवहार किया जावे एवं व्यक्तिगत द्वेष की भावना ना रखी जावे

3. समस्त अधिकारी / कर्मचारियों के जीपीएफ, एन.पी.एस. एवं ई.पी.एफ. जो कि पिछले 03 वर्षो से जमा नहीं हो रहे है उसे 15 दिवस के अंदर जमा कराया जावे, अन्यथा की स्थिति में प्रचण्ड क्रमबद्ध आंदोलन किया जावेगा।

4. सभी अधिकारी / कर्मचारियों के द्वारा यह सूचना दी जा रही है कि आज दिनांक 20.12.2022 से शासकीय अवकाश दिवस पर कोई कर्मचारी कर्तव्य पर उपस्थित नहीं रहेगा असुविधा के लिये खेद है हमारा भी घर-परिवार है हमें भी अवकाश दिवस में पारिवारिक / घरेलू कार्यो का निर्वाहन करना होता है, अन्यथा की स्थिति में समस्त अधिकारी / कर्मचारियों को प्रचण्ड क्रमबद्ध आंदोलन के लिये बाध्य होना पड़ेगा।

Comments are closed.

Translate »