हनुमान जयंती पर घर मे किया पूजन ,सूने रहे मंदिर – छिंद धाम में भी सन्नाटा

0
766

विशेष संवाददाता। आज देश भर में श्री राम जी के भक्त हनुमानजी की जयंती पर लोगो ने घरों में सुंदर कांड का पाठ कर पूजन किया और महामारी से शीघ्र निजात के लिये प्रार्थना भी की। बात दे कि बरेली जिला रायसेन के छिंदधाम में लॉक डाउन के कारण सन्नाटा पसरा रहा। वहां पुजारियों ने ही हनुमानजी के जन्मोत्सव पर चोला चढ़ा कर पूजन किया।

सनातन संस्कृति में हिन्दू समुदाय श्री राम के परमभक्त हनुमानजी को विशेष स्थान देता है। देश ही नही भारतीय संस्कृति को समझने वाले विदेशों में बसे लोग भी हनुमानजी के चमत्कारों के कारण उन्हें मानते है, मध्यप्रदेश में हनुमानजी के कई मंदिर है जहां प्रतिदिन भक्तों का तांता लगा रहता है, लेकिन आज हनुमानजी के जन्मोत्सव के समय कोरिना जैसी भीषण आपदा के चलते हालात विपरीत है। लोग अपने घरों में ही रामचरित मानस का सुंदर कांड का पाठ घरों में ही कर आरती पूजन आदि कर रहे है। प्रति वर्ष धूमधाम से मनाए जाने वाले कार्यक्रम संकट के समय निरस्त कर दिये गए है। बता दे कि जबलपुर में रानीताल स्थित हनुमान मंदिर , भोपाल के 1100 क़वाटर स्थित हनुमान मंदिर सहित रायसेन के छिंद वाले हनुमान मंदिर आदि में आपदा के चलते मंदिरों के पुजारियों ने ही पूजन किया ।

छिंदधाम में प्रतिष्ठित हनुमान जी के दर्शनों को प्रति मंगलवार और शनिवार को लोगो की भीड़ उमड़ती है , ऐसा माना जाता है कि हनुमानजी के दर्शन करने से मनोकामना पृरी होती है। जिसके चलते छिंदधाम में हजारों की संख्या में लोगो की भीड़ उमड़ती है।

बता दे कि हनुमान जयंती पर छिंदधाम में भंडारे का आयोजन भक्तों द्वारा किये जाता है साथ ही प्रदेश भर के शहरों में भी हनुमानजी के मंदिरों में भक्तों द्वारा भंडारे आयोजित किये जाते है। लेकिन अब संकट के समय लोग मानव सेवा कर ओर जरूरतमंद लोगों को भोजन और राशन उपलब्ध करवा कर ही रामजन्मोत्सव और हनुमान जन्मोत्सव का पुण्य लाभ कमा रहे है।

छिंदधाम भोपाल जबलपुर नेशनल हाईवे पर रायसेन जिले के बरेली तहसील में स्थित है। जहां सड़क मार्ग से होशंगाबाद के पिपरिया होकर अथवा भोपाल से बाड़ी , बरेली होकर पहुचा जा सकता है। उधर नरसिंहपुर जिले के बरमान करेली होकर भी उदयपुरा से छिंदधाम पहुचा जा सकता है।