गोल्ड लोन के नाम पर ठगी के शिकार हुए लोग – निजी बैंको सहित गोल्ड लोन देने वाली कंपनी के नाम पर ठग

0
329

मामले को लेकर सीबीआई सहित आयकर विभाग में शिकायत की तैयारी

होशंगाबाद/ सोहागपुर
होशंगाबाद जिले के सोहागपुर में कुछ युवकों ने लोगो को नगदी रकम की जरूरत पर उनसे गोल्ड लेकर ठगी की है। साथ ही बैंको में गोल्ड रखने के बजाय खुले बाजार में ज्वेलर्स के यहां लोगो का लाखो का सोना गिरबी रखे जाने की जानकारी सूत्रों से मिल रही है।
बता दे कि सेमरी हरचन्द की एक निजी बैंक में गोल्ड लोन के लिये काम करने वाले युवक सहित अन्य युवको ने पिपरिया की एक निजी बैंक सहित गोल्ड लोन देने वाली कम्पनी में लोगो से लिया हुआ गोल्ड और रकम अपने नजदीकी और दोस्तो के नाम पर रखे जाने की सूचना मिल रही है। साथ ही लोगो से गोल्ड लोन देने के नाम पर लिये गए गोल्ड के वजन में भी हेराफेरी कर युवको ने लाखों की प्रॉपर्टी बनाई है। सूत्रों से मिली जानकारी के चलते सोहागपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम डुंडा खापा के नरेश उर्फ सोनू रघुवंशी के साथ रहने वाले युवक साहब भैया पटेल ने जो कि अल्प शिक्षित है। के द्वारा लोगो से गोल्ड लोन देने के नाम पर बड़ी मात्रा में गोल्ड से बने गहने आदि लेकर बैंक में रखने के बजाय निजी ज्वेलर्स के यहां गिरवी रखे है । इतना ही नही लोगो को ज्यादा ब्याज बता कर गोल्ड को कम ब्याज पर गिरवी रखकर बीच मे लाखो रुपये की दलाली भी ली है। वही पिपरिया में भी एक निजी बैंक सहित गोल्ड लोन देने वाली कम्पनी में भी गांव के लोगो से सोने के जेबर आदि गोल्ड लोन के नाम पर लेकर बैंक सहित कम्पनी में काम करने वाले युवकों ने अपने रिश्तेदारों सहित मित्रो के नाम पर गोल्ड लोन खाता खोलकर रखा हुआ है। जिसकी जांच की मांग पीड़ित लोगों ने बैंकिंग लोकपाल सहित सीबीआई में की है। वही गोल्ड लोन के नाम पर लोगो को ठगी का शिकार बनाने वाले युवकों की पिपरिया सहित सोहागपुर ओर आसपास एकत्रित की गई सम्पत्ति की जांच करने को लेकर भी आयकर विभाग को शिकायत की जा रही है। रघुवंशी समाज सहित अन्य लोगो के साथ हुई इस ठगी के शिकार लोगो का कहना है कि जिन लोगो के पास एक साल पहले तक कुछ भी नही था अब उनके पास अचानक से लाखों की सम्पत्ति कहां से आ गई। वही सोहागपुर के रघुवंशीपुरा वार्ड में बाजार भाव से कम दर पर गोल्ड बिक्री किये जाने की सूचनाएं भी पिछले तीन महीने से मिल रही है , बताया जा रहा है कि उक्त सोना उन्ही लोगो का है जिन्होंने नगदी रकम की जरूरत होने पर बैंक और गोल्ड लोन देने वाली कम्पनियो में काम करना बता कर उन्ही युवको ने लोगो से लिया है। क्षेत्र में हुई उस ठगी को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से भी शिकायत की जा चुकी है , जिसके बाद करोड़ो की ठगी करने वाले युवकों के विरुद्ध एफआईआर के आदेश भी हो गए है जिनकी एफआईआर शीघ्र ही दर्ज किया जाना है।