फेसबुक पर हुई थी दोस्ती, इस तरह हनी ट्रैप का शिकार हुआ जवान

0
6

जयपुर। हनीट्रैप में फंसकर पाक जासूस को खुफिया जानकारी देने के आरोपी जवान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ जारी है। सेना के जवान सोमवीर से हुई पूछताछ और अब तक की छानबीन से पता चला है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई महिलाओं के माध्यम से भारत की सैन्य संबंधी जानकारी एकत्रित करती है।
आईएसआई से जुड़ी महिला एजेंट भारत के महत्वपूर्ण सामरिक ठिकानों पर तैनात जवानों से फेसबुक के माध्यम से दोस्ती कर अपने जाल में फंसाती है। पिछले दिनों जैसलमेर मिलिट्री स्टेशन के टैंक यूनिट में तैनात सोमवीर को इस मामले में पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आईएसआई महिला एजेंट ने अनिका चोपड़ा के नाम से फेसबुक आइडी बना रखी है। उसने अब तक करीब चार दर्जन जवानों को अपने जाल में फंसाकर खुफिया जानकारी एकत्रित की है। जवानों से बात करने वाली महिला कराची की रहने वाली है।
अब तक की जांच में सामने आया है कि सोमवीर ने हथियारों व टैंक के फोटो अनिका चोपड़ा को भेजे थे। इसके बदले उसको पैसे मिलने की बात भी सामने आई है। पुलिस व सेना के अधिकारियों का कहना है कि अनिका चोपड़ा सोमवीर सहित अन्य जवानों से न्यूड होकर वाट्सएप कॉल करती थी।
सोमवीर के खिलाफ स्पेशल पुलिस स्टेशन जयपुर में शासकीय गुप्त बात अधिनियम, 1923 में मामला दर्ज कर चार जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। यह बात भी सामने आई कि सोमवीर अपने प्रशिक्षण काल से ही अनिका चोपड़ा के संपर्क में था और तभी से फेसबुक के माध्यम से सेना से जुड़ी जानकारी उसके साथ शेयर करता था। वह 2016 में सेना में भर्ती हुआ और उसके आर्म्ड ट्रेनिंग के लिए महाराष्ट्र के अहमदनगर भेजा गया था। यहीं इसकी फेसबुक पर अनिका चोपड़ा से दोस्ती हुई थी। उसके बाद जैसलमेर में पोस्टिंग हुई तो उनका आपसी संवाद और आगे बढ़ा।

सेना के प्रवक्ता कर्नल संबित घोष ने बताया कि जांच में पुलिस को सेना पूरा सहयोग कर रही है। पूछताछ में सामने आया है कि हरियाणा के रोहतक निवासी जवान सोमवीर आईएसआई को देश से सेना की गतिविधियों की खुफिया जानकारी उपलब्ध करा रहा था। उस पर पिछले चार माह से खुफिया एजेंसियां लगातार नजर बनाए हुई थीं। सेना के सूत्रों के अनुसार, इस जवान से यह भी जानने का प्रयास किया जा रहा है कि इसके अलावा कितने जवान महिला के जाल में फंसे हैं।