15 साल बाद भाजपा सड़क पर, कांग्रेस के खिलाफ हो रहा प्रदर्शन

0
8

भोपाल। राफेल खरीद पर कांग्रेस के दुष्प्रचार के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी का प्रदेशव्यापी प्रदर्शन चल रहा है। भाजपा के हारे और जीते विधायक जिला स्तर पर प्रदर्शन कर रहे राजधानी के कलेक्टोरेट के सामने पार्टी के नेता प्रदर्शन कर रहे हैं। धरने के अंत में राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन कलेक्टर को दिया जाएगा।
प्रदेश में सत्ता से बाहर होते ही 15 साल बाद भाजपा के कार्यकर्ता इस तरह से पहली बार मैदान में आए हैं। राफेल खरीद पर कांग्रेस के दुष्प्रचार के खिलाफ भाजपा प्रदेश के हर जिला मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन कर रही है। भोपाल में भाजपा कार्यकर्ता न्यू मार्केट से रैली के रूप में भाजपाई सीधे कांग्रेस दफ्तर पहुंचेंगे और उसे घेरेंगे।

कांग्रेस के आरोप निराधार: प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया कि राफेल खरीद समझौते के मुद्दे पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी निराधार और बेबुनियाद आरोप लगाकर इस सौदे को दुष्प्रचारित कर देश की जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे है। झूठी बातें जनता को परोसी गईं। जबकि सर्वोच्च न्यायालय की ओर से राफेल मामले में दर्ज की गई सभी याचिकाओं को खारिज कर यह स्पष्ट किया गया है कि इस समझौते पर किसी भी प्रकार का कोई संदेह करने का कोई ठोस आधार नहीं है।

कलेक्टोरेट के सामने प्रदर्शन: राजधानी में हो रहे प्रदर्शन में पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, विधायक रामेश्वर शर्मा, पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह और महापौर आलोक शर्मा मौजूद है। यहां आयोजित सभा को संबोधित करते हुए विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि जिस तरह की भाषा का उपयोग चुनाव प्रचार के दौरान किया उस पर कांग्रेस को माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस के लोग खुद जो हैं उस तरह के आरोप वे अन्य लोगों पर लगाते हैं।