मवेशियों से भरा ट्रक पलटा; 12 गायों समेत 8 बछड़ों की मौत; पुलिस देखती रही, तस्कर फरार

0
102

छतरपुर. सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में गोपालपुरा गांव के पास शनिवार सुबह 4 बजे मवेशियों से भरा ट्राॅला अनियंत्रित होकर पलटने से उसमें लदे 20 मवेशियों की मौत हो गई। हादसे के दौरान ट्रक के पीछे पुलिस की गाड़ी मौजूद थी। पुलिस के सामने ही हादसा हुआ। बावजूद इसके अवैध रूप से गायों की तस्करी करने वाले आरोपी फरार हो गए। इस मामले में राजनगर टीआई और कोतवाली टीआई के बयान अलग-अलग हैं। हालांकि, दोनों ही टीआई हादसे के दौरान पुलिस मौजूद होने की बात स्वीकार कर रहे हैं।

राजनगर बायपास रोड पर शनिवार देर रात ट्रॉला नंबर एमपी 09 एचजी 3414 गायों को लादकर उत्तर प्रदेश की ओर ले जा रहा था। सूचना मिलने पर राजनगर थाना पुलिस ने इस वाहन को पकड़ने के लिए निकली। पुलिस वाहन को पीछे आता देख ट्राॅला चालक ने वाहन को तेज रफ्तार से भगाया। वाहन को पुलिस से बचाने के प्रयास में ट्रॉला गोपालपुरा गांव के पास बने सत्य साईं सत्संग आश्रम के पास के मोड पर अनियंत्रित होकर पटल गया। वाहन पलटने से उसमें सवार 12 गायों और 8 बछड़ों सहित 20 मवेशियों की मौके पर ही मौत हो गई।

घटना की सूचना मिलते ही सीएसपी आरआर साहू, कोतवाली टीआई संधीर सिंह चौधरी, सिविल लाइन टीआई विनायक शुक्ला मौके पर पहुंचे। यहां पहुंचे पुलिस बल ने इन मृत जानवरों को नगर पालिका के वाहन से उठवाया और पीएम कराने के बाद सरानी गांव के पास दफना दिया। गोपालपुरा गांव के पास वाहन पलट जाने से करीब 20 मवेशियों की मौत गई। सभी आरोपियों के भाग जाने के बाद राजनगर पुलिस थाने पहुंची और अज्ञात आरोपियों पर मामला दर्ज किया। कोतवाली टीआई संधीर सिंह चौधरी ने मवेशियों से भरे ट्रक को पकड़ने के बाद राजनगर थाना पुलिस इन मवेशियों को राधेपुर गौशाला छोड़ने के लिए जा रही थी।

यूपी की मंडियों में ले जाते हैं मवेशियों को : छतरपुर जिले की सीमा से लगे उप्र के महोबा, बांदा और कानपुर में मवेशियों की खरीदी के लिए मंडियां लगती हैं। इन्हीं मंडियों के लिए मप्र के जिलों से जानवरों की तस्करी करके ले जाया जाता है। जिले में सागर कानपुर नेशनल हाईवे पर कैमाहा में आरटीओ, वाणिज्यकर, वन विभाग और पुलिस के चेक पोस्ट हैं। इनसे बचने के लिए ही तस्कर हाईवे के बजाए राजनगर से लवकुशनगर होकर सीधी महोबा जाने की कोशिश करते हैं। इसलिए यह ट्रक भी हाईवे के बजाए राजनगर क्षेत्र से ले जाया जा रहा था।