मतगणना के लिए सभी तैयारियां हुई पूरी- आज से प्रारंभ होगी मतगणना

0
19

राजू प्रजापति

रायसेन। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती एस प्रिया मिश्रा ने शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों के लिए मतगणना हेतु की गई तैयारियों का जायजा लिया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती एस प्रिया मिश्रा ने बताया कि मतगणना के लिए सभी तैयारियां पूर्ण करली गईहैं चारों विधानसभाओं की मतगणना के लिए बनाए गए मतगणना कक्ष, मतगणना स्टॉफ के बैठने की व्यवस्था, ईवीएम के लिए रखी जाने वाली काउन्टिंग टेबिलें, बैरीकेट्स, अभ्यर्थियों तथा उनके निर्वाचन एजेन्ट का आगमन, निर्गमन एवं बैठक व्यवस्था, मीडिया सेन्टर, कंट्रोल रूम आदि का जायजा लिया गया। इस अवसर पर एसपी श्री जगत सिंह राजपूत, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री एमपी बरार भी उपस्थित थे।मतगणना स्थल पर सीसीटीवी से रखी जा रही है निगरानीकलेक्टर ने बताया कि मतगणना परिसर में सीसीटीवी कैमरो के माध्यम से सघन निगरानी रखी जा रही है। किसी भी प्रकार का अनापेक्षित आचरण पाए जाने पर कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने मतगणना कार्य में संलग्न अधिकारियों, कर्मचारियों से अनुशासन बनाए रखने तथा किसी भी प्रकार की समस्या या परेशानी होने पर सम्बंधित अधिकारी से सम्पर्क करने के लिए कहा है।

मतगणना स्थल पर बनाया गया है मीडिया सेंटर निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतगणना स्थल शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में मीडिया सेंटर तथा कम्युनिकेशन सेंटर स्थापित किया गया है। मीडिया सेंटर में टीवी, कम्प्यूटर, इंटरनेट, टेलीफोन की व्यवस्था की गई हैं। मीडियाकर्मियों द्वारा केवल मीडिया सेंटर में ही मोबाईल फोन, लेपटॉप या अन्य कम्युनिकेशन संशाधन का उपयोग किया जा सकेगा। मीडियाकर्मी किसी भी स्थिति में मतगणना हाल में मोबाईल फोन नहीं ले जा पाएंगे। मीडिया सेंटर में मीडियाकर्मियों के मोबाईल फोन रखने की व्यवस्था भी की गई है।  निर्वाचन आयोग के अनुसार मतगणना हाल में कार्यालयीन रिकार्डिंग के अलावा पूरी प्रक्रिया के दौरान किसी और प्रकार का कैमरा या वीडियोग्राफी वर्जित रहेगा। पत्रकारों या मीडिया को किसी प्रकार का कैमरा स्टेंड मतगणना हाल में लगाने की अनुमति नहीं होगी। भारत निर्वाचन द्वारा अधिकृत पास जिन्हें दिया जाएगा, केवल वही व्यक्ति हाथ का कैमरा रख सकेंगे। इसके अलावा वीडियो लेते समय किसी भी स्थिति में ईवीएम में वास्तविक मतों की फोटो कंधे या हाथ में लिए कैमरे द्वारा लेना वर्जित रहेगा। वह स्थान तक जहां कैमरा घूमता है, उस स्थान को रिटर्निंग अधिकारी द्वारा पहले से बताया जाएगा। उसके द्वारा इस सीमा को निशान बनाकर या निर्देश के लिए रस्सी आदि से चिन्हित किया जाएगा।
बिना पास के नहीं मिलेगा प्रवेश मतगणना स्थल पर अधिकृत व्यक्तियों को ही प्रवेष दिया जाएगा। बिना पास के मतगणना स्थल पर प्रवेष पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। एलईडी पर राउण्डवार दी जाएगी जानकारी
मतगणना के दौरान प्रत्येक राउण्ड की समाप्ति पर ईवीएम मशीनों से की गई मतगणना के परिणामों की प्रेक्षक और संबंधित रिटर्निग अधिकारियों द्वारा हस्ताक्षर कर घोषणा की जायेगी। इसके साथ ही घोषणा को मतगणना कक्ष में स्थापित डिस्पले बोर्ड पर प्रदर्शित किया जायेगा। राउण्डवार मतगणना परिणाम की पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से उद्घोषणा की जायेगी। राउडण्वार रिजल्ट शीट भी अभ्यर्थी और उसके अभिकर्ता को दी जायेगी और मीडिया को अवगत कराने के लिये प्रत्येक राउंड के परिणाम की प्रति मतगणना परिसर में बनाये गये मीडिया कक्ष को दी जायेगी इन पर रहेगा प्रतिबंध
मतगणना स्थल पर मोबाईल एवं धूम्रपान का उपयोग वर्जित रहेगा। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार उम्मीदवारों के मतगणना एजेंटों एवं मतगणना कार्य के लिए नियुक्त शासकीय सेवक गणना स्थल पर मोबाइल, केलकुलेटर, खाने-पीने की सामग्री आदि लेकर नहीं जा सकेंगे। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतगणना स्थल पर मतगणना कार्य में संलग्न सभी अधिकारी-कर्मचारी, अभ्यर्थी, अभ्यर्थी के निर्वाचन अभिकर्ता एवं गणना अभिकर्ताओं को धूम्रपान संबंधी वस्तुएं साथ ले जाना पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा।
अभ्यर्थी को सुरक्षा गार्ड के साथ गणना केन्द्र में प्रवेश की अनुमति नहीं है। भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार चुनाव लड़ रहे किसी भी उम्मीदवार को उसके सुरक्षा गार्ड अथवा सशस्त्र सुरक्षा गार्ड के साथ मतगणना केन्द्र में प्रवेश करने नहीं दिया जायेगा
संपूर्ण मतगणना प्रक्रिया की होगी वीडियोग्राफी
भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार विधानसभा चुनाव के तहत 11 दिसम्बर को होने वाली मतगणना की संपूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जायेगी। मतगणना के प्रत्येक चरण की वीडियोग्राफी सुनिश्चित की जायेगी। वीडियो कव्हरेज में गणना कर्मियों की रेण्डमाइजेशन की प्रक्रिया, स्ट्राँग रूम खोलने की प्रक्रिया, ईव्हीएम का स्ट्राँग रूम से मतगणना कक्ष में अंतरण, मतगणना कक्ष की व्यवस्थाएं, मतगणना केन्द्र पर सामान्य मतगणना की प्रक्रिया तथा रिटर्निंग अधिकारी की मेज पर सामान्य सारणीकरण की प्रक्रिया, ईव्हीएम की दोबारा जांच की प्रक्रिया, मतगणना कक्ष एवं मतगणना केन्द्र के भीतर और बाहर की सुरक्षा व्यवस्था, मतगणना केन्द्र पर अभ्यर्थियों एवं उनके अभिकर्त्ताओं की उपस्थिति, परिणाम की घोषणा की प्रक्रिया तथा मतगणना की प्रक्रिया के दौरान किसी भी समय होने वाली घटनाएं शामिल होंगी। आयोग के निर्देशानुसार मतगणना की प्रक्रिया पूरी होने के बाद वीडियो कैसेट भविष्य के संदर्भ हेतु सीलबंद कर रखी जाएगी।
निर्वाचन आयोग के अनुसार मतगणना हाल में कार्यालयीन रिकार्डिंग के अलावा पूरी प्रक्रिया के दौरान किसी और प्रकार का कैमरा या वीडियोग्राफी वर्जित रहेगा। पत्रकारों या मीडिया को किसी प्रकार का कैमरा स्टेंड मतगणना हाल में लगाने की अनुमति नहीं होगी। भारत निर्वाचन द्वारा अधिकृत पास जिन्हें दिया जाएगा, केवल वही व्यक्ति हाथ का कैमरा रख सकेंगे। इसके अलावा वीडियो लेते समय किसी भी स्थिति में ईवीएम में वास्तविक मतों की फोटो कंधे या हाथ में लिए कैमरे द्वारा लेना वर्जित रहेगा। वह स्थान तक जहां कैमरा घूमता है, उस स्थान को रिटर्निंग अधिकारी द्वारा पहले से बताया जाएगा। उसके द्वारा इस सीमा को निशान बनाकर या निर्देश के लिए रस्सी आदि से चिन्हित किया जाएगा। संपूर्ण मतगणना प्रक्रिया की कराई गई वीडियोग्राफी की सीडी डीईओ (जिला निर्वाचन अधिकारी) द्वारा सुरक्षित रखी जाएगी। निर्वाचन आयोग के मुताबिक मतगणना की प्रक्रिया की वीडियोग्राफी की एक सीडी प्रत्याशी या उसके निर्वाचन अधिकारी की विशिष्ट मांग पर निःशुल्क दी जायेगी।रेण्डम आधार पर एक मतदान केन्द्र के व्हीव्हीपीएटी की पर्ची का मतों से किया जाएगा
भारत निर्वाचन आयोग के निर् उपयोग हुए व्ही.व्ही.पीएटी. की स्लिपों का मिलान ईव्हीएम के कंट्रोल यूनिट में प्रदर्शित परिणाम से अनिवार्यतः किया वीडियोग्राफी भी करवाई जाएगी।
मतगणना हॉल के अन्दर ही व्हीव्हीपीएटी की स्लिप से अनिवार्य सत्यापन हेतु व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। इसके लिये रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा सभी अभ्यर्थियों को पूर्व में ही सूचना दी गई है। मतदान केन्द्र के चयन के लिये एक गुणा एक इंच आकार के सफेद कागज पर मतदान केन्द्रों के नम्बर लिखकर कंटेनर में डाले जायेंगे और पर्ची निकालकर, केन्द्र का रेण्डम चयन होगा। यह कार्य ईव्हीएम से गणना के अंतिम राउण्ड के तत्काल पश्चात् किया जायेगा। यह कार्य केन्द्रीय प्रेक्षक की उपस्थिति एवं कड़ी निगरानी में होगा। परिणाम घोषणा के पूर्व रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा व्हीव्हीपीएटी की स्लिप की गणना पश्चात् कंट्रोल यूनिट के परिणाम से मिलान कर एक सत्यापन पत्रक जारी किया जाएगा। सहायक, माइक्रो आब्जर्वर और जाली की दूसरी ओर बैठे प्रत्याशी के एजेंट को भी दिखाई दे। यदि कोई एजेंट ईवीएम पर एक बार से अधिक ùरिजल्ट देखने की इच्छा व्यक्त करता है तो मतगणना सुपरवाइजर को उसके संतोष के लिए फिर से रिजल्ट दिखाना होगा। आयोग ने यह निर्देश भी दिए है कि जब प्रत्येक मतदान की टेब्ल्युलेशन शीट(फार्म 17 सी) रिटर्निंग आफीसर की मेज पर आ जाती है तो रिटर्निंग आफीसर का कर्त्तव्य होगा कि रिटर्निंग आफीसर टेबिल पर बैठे प्रत्याशी, उसके एजेंट, मतगणना एजेंट को प्रत्येक मतदान केंद्र के प्रत्येक प्रत्याशी को रिजल्ट को नोट करने दें।