कृष्णा का चला सुदर्शन चक्र

0
187

रिपोर्टर -राजू प्रजापति

भोपाल ।भेल ।मध्यप्रदेश में 28 तारीख को होने जा रहे ।मतदान में सारे प्रत्याशियों के आज 26 तारीख को शोरगुल वाले जनसंपर्क समाप्त हो गये।गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र को एक नजर देखते हैं ।
जिसमें लगातार पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल जी विजय पताका लहराते रहे हैं ।पिछले चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी गोविंद गोयल धरा साईं हो गए थे .।गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं की संख्या 354977विधानसभा क्षेत्र में मतदाताओं की पुरुष संख्या 188755 महिला की 166506 थर्ड जेंडर 16 है ।पोलिंग बूथ 384 है़। वर्तमान में गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र से 17 प्रत्याशी मैदान में हैं ।उन सब से अकेले श्रीमती कृष्णा गौर टक्कर ले रही हैं ।जबकि कांग्रेस के प्रत्याशी सहित सारे प्रत्याशी जोर आजमाइश कर रहे हैं।

श्रीमती कृष्णा गौर की घोषिगईत आए 12.5 करोड तथा उनकी शिक्षा m.a. है उनके कुशल नेतृत्व से भाजपा ने क्षेत्र में बढ़त बना ली है ।क्योंकि उनका शालीनता भरा स्वभाव जनता को अपनी और आकर्षित करता है ।इसका लाभ इस चुनावी की रणभूमि में उन्हें मिल सकता है ।भाजपा के भरी से भरी योद्धा टिकट पाने में धरा सही हो गये वे पहले इंतहा में पास हो गई एक मुकाबला अब तरफा हो चला है ।
क्योंकि मतदाताओ का रुझान गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र में उनकी ओर झुकता हुआ दिख रहा है ।उनके तूफानी दौरे और मुद्दतों मतदाता वह जनता का सहयोग भरपूर देखने को मिला है .।
भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में लगातार 13 वर्ष गुजारे और भाजपा शासन काल को मध्य प्रदेश में 15 साल हो चुके हैं। लेकिन पूरे प्रदेश में किसान गरीब और आदिवासी झुग्गी झोपड़ी के लोगों को सिर्फ कोरा आश्वासन ही प्राप्त हुआ है ।आज देश में पार्षद से लेकर प्रधानमंत्री तक भाजपा का है ।लेकिन पहले नोट बंदी उसके बाद जी एस टील व रसोई गैस उसके बाद डीजल पेट्रोल के बढ़ते हुए दामों ने इस देश के हर नागरिक की कमर तोड़ कर रख दी ।प्रदेश में भाजापा की चौथी बार सरकार बनने पर संकट के बादल मंडराते नजर आ रहे हैं ।जिसमें कुछ क्षेत्रों में बागी उम्मीदवार व निर्दलीय प्रत्याशीओ तथा प्रधानमंत्री आवास योजना ऐसे कई समस्याएं भाजपा प्रत्याशियों के लिए खड़ी कर दी है। लेकिन जिन्होंने अपने क्षेत्र में काम किए हैं ।वह विधानसभा के द्वार पर दस्तक दे रहे हैं ।जिनमें श्रीमती कृष्णा गौर गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र भी आता है।
लेकिन इस महाभारत में भी कृष्ण की जीत होगी क्योंकि यह भी एक धर्म युद्ध है ।उसमें भी कौरवो का विनाश वासुदेव कृष्ण ने किया था ।इसमें भी कृष्ण-कृष्णा एक है। इस महाभारत के चुनावी युद्ध में कृष्ण की विजय होगीहै ।