राहुल बाबा क्या जाने कि गेहूं की बाली कैसे लगती है-शिवराज सिंह चौहान

0
61

सागर/दमोह। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आज देवउठनी ग्यारस है, इसलिए आज तक दीपावली का पर्व मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि आज से शुभ कार्य शुरू हो जाएंगे, लेकिन अब कांग्रेस सो जाएगी। ये बातें मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कही। वे सोमवार को सागर जिले की देवरी विधानसभा के केसली में भाजपा प्रत्याशी तेजीसिंह राजपूत और दमोह जिले की पथरिया विधानसभा के पथरिया में लखन पटेल के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने 70 में से 54 वर्षों तक मध्यप्रदेश में राज किया। उन्होंने गरीबी हटाने का वचन दिया, लेकिन आज तक गरीबी नहीं हटा पाए। कांग्रेस के लोग मुझ पर आरोप लगाते हैं। राहुल बाबा भी दिल्ली से आकर मुझे कोसते हैं, किसानों और किसानी की बातें करते हैं, लेकिन उन्हें ये ही नहीं पता कि गेहूं की बाली कैसे लगती है, तो वे क्या किसानों की समस्याएं समझेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 1971 में गरीबी हटाओ का नारा दिया था। गरीबी हटाने के नाम पर वे सत्ता में आए, लेकिन इतने वर्षों के बाद भी वे देश-प्रदेश से गरीबी नहीं हटा पाए। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकारों ने 54 वर्षों तक राज किया। उनके एक मुख्यमंत्री तो 10 साल तक मध्यप्रदेश में रहे, लेकिन उन्होंने प्रदेश का पूरी तरह बंटाढार कर दिया।

वैश्या भी मेरी बहन, पांव धोकर माथे से लगाउंगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के कमलनाथ महिलाओं को सजावट का सामान कहते हैं। वे हमारी बहन-बेटियों का अपमान करते हैं। वे तो मुझे भी कोसते हैं, कभी मदारी तो कभी कुछ बोलते हैं। उन्होंने कहा कि मैं मध्यप्रदेश में महिलाओं का अपमान सहन नहीं करूंगा। वैश्या भी मेरी बहन है, मैं तो उसके भी पांव धोकर माथे से लगाउंगा।

अंतिम संस्कार का पैसा देता हूं तो भी उन्हें गुस्सा आता है

मुख्यमंत्री ने कहा कि आजकल कांग्रेसियों को मेरे उपर खूब गुस्सा आ रहा है। 15 वर्षों से सत्ता की कुर्सी से दूर हैं, क्योंकि उनके लिए मैं कांटा बना हूं। उन्होंने कहा कि यदि मैं अपने बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा पर भेजता हूं तो कांग्रेसियों को गुस्सा आता है, यदि मैं अपनी बहन-बेटियों की शादी करवाता हूं तो भी कांग्रेसियों को गुस्सा आता है। यदि मैं अपने किसी गरीब भाई को अंतिम संस्कारों के लिए पांच हजार रूपए की मदद करता हूं तो इसमें भी कांग्रेस के लोगों को गुस्सा आता है।

विकास की गंगा बहाएंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने प्रदेश में विकास करने का काम किया और आगे भी यह विकास जारी रहेगा। हम 2022 तक प्रदेश के एक-एक गरीब को पक्का मकान बनाकर देंगे। उन्होंने कहा कि सागर जिले के किसानों को पानी देने के लिए 4748 करोड़ रूपए की बीना सिंचाई परियोजना शुरू की है। इसके अलावा अन्य परियोजनाएं भी चल रही हैं। इन परियोजनाओं से किसानों की एक-एक इंच जमीन पर सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमने 15 वर्षों में मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से बाहर निकालकर पहले विकासशील, फिर विकसित प्रदेश बनाया है और अब मध्यप्रदेश को समृद्धशाली प्रदेश बनाएंगे। हमारी सरकार समृद्ध मध्यप्रदेश में महिलाओं का सशक्तिकरण करेगी, हमारी सरकार बेटे-बेटियों की फीस भरेगी। हमारी सरकारी हर वर्ग का विकास करेगी।

सिंचाई में सक्षम बनाया

मुख्यमंत्री ने दमोह के पथरिया में कहा कि कांग्रेस के जमाने में 17 लाख हेक्टेयर जमीन में सिंचाई की व्यवस्था थी, लेकिन भाजपा की सरकार ने 42 लाख हेक्टेयर जमीन में सिंचाई की व्यवस्था की है। सागर और दमोह जिले के कई सिंचाई परियोजना शुरू की हैं। इनमें पंचम नगर परियोजना 675 करोड़, सादगी परियोजना 7636 करोड़, सीतानगर सिंचाई परियोजना सहित कई अन्य परियोजनाएं शुरू की हैं। इस मौके पर सांसद प्रहलाद पटेल, लक्ष्मण सिंह, राजेश दीक्षित, मलखान सिंह, लता सिंह, मारू राणा, पंडित राजेंद्र गुरूजी, विजय सिंह, नरेंद्र व्यास, प्रताप सिंह गणेश राम, देवीसिंह, कैलाश सिंह, करण सिंह सहित मंडल अध्यक्ष, मोर्चाओं के पदाधिकारी सहित आम लोग भी बड़ी संख्या में मौजूद रहे।