महिलाओं का अपमान सहन नहीं करेगी मध्यप्रदेश की धरतीः शिवराजसिंह चौहान

0
87

सुसनेर/जीरापुर। मध्यप्रदेश मां-बहनों की इज्जत करने वाला प्रदेश है। कांग्रेस के नेता मां-बेटियों को सजावट की वस्तु बता रहे हैं, लेकिन मध्यप्रदेश की धरती महिलाओं का यह अपमान सहन नहीं करेगी और कांग्रेस को उसकी सोच के लिए सबक सिखाएगी। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को आगर मालवा जिले के सुसनेर और राजगढ़ जिले के जीरापुर में सभाओं को संबोधित करते हुए कही।

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को आगर मालवा जिले के सुसनेर एवं राजगढ़ जिले की खिलचीपुर विधानसभा के जीरापुर में स्थानीय प्रत्याशियों के समर्थन में सभाओं को संबोधित किया। मुख्यमंत्री पहले सुसनेर और वहां से जीरापुर पहुंचे। जीरापुर में सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को महिलाओं को ‘सजावटी महिलाएं’ कहकर संबोधित किए जाने पर जमकर आड़े हाथों लिया। जीरापुर की सभा के दौरान मंच पर क्षेत्रीय सांसद रोडमल नागर, स्थानीय प्रत्याशी हजारीलाल दांगी, भाजपा जिला महामंत्री ज्ञानसिंह गुर्जर, उपाध्यक्ष जगन्नाथ तोमर, इंदिराजी, बलराम जाट सहित बड़ी संख्या में आम नागरिक उपस्थित थे।

भारतीय संस्कृति में मां-बहनों का उंचा स्थान

मुख्यमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के लोग मां-बेटियों को सजावट का सामान कहते हैं। कमलनाथजी कहते हैं कि महिलाओं को सजावट के लिए टिकट थोड़े ही देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह भारत भूमि है, भारतीय संस्कृति में मां-बेटियों का उंचा स्थान है। जहां पर मां-बेटियों का सम्मान होगा, वहीं देवता निवास करते हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश मां-बेटी की इज्जत करने वाला प्रदेश है। प्रदेश की भाजपा सरकार ने मां-बेटियों को उनका पूरा सम्मान दिया है। मध्यप्रदेश की धरती यह अपमान बिल्कुल सहन नहीं करेगी और निश्चित तौर पर महिलाओं के इस अपमान के लिए चुनाव में कांग्रेस को सबक सिखाएगी।

जनता मेरी भगवान और मैं उसका पुजारी हूं

मुख्यमंत्री ने राजगढ़ सभा में कहा कि मध्यप्रदेश मेरा मंदिर है, प्रदेश की जनता मेरी भगवान है और मैं इस भगवान का पुजारी हूं। उन्होंने कहा कि 54 साल कांग्रेस ने सरकार चलाई। 10-10 साल तक एक ही मुख्यमंत्री रहा, लेकिन राजगढ़ जिले की स्थिति क्या थी, यह बताने की जरूरत नहीं है। यहां पर विकास बिल्कुल नहीं हुआ, किसानों को सिंचाई के लिए पानी नहीं मिला। अब भाजपा सरकार ने राजगढ़ जिले के विकास का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने कुंडलिया और मोहनपुरा बांध का काम शुरू कराया है। 4 हजार करोड़ से कुंडलियां बांध तैयार होगा। इससे सवा तीन लाख एकड़ में सिंचाई के लिए और 179 गांवों में पीने का पानी मिलेगा। इसी तरह 4 हजार करोड़ रूपए की मोहनपुरा योजना का काम भी पूरा हो गया है। इस योजना से किसानों को सिंचाई के लिए और 345 गांवों में पीने का पानी मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजगढ़ जिले की एक-एक इंच जमीन को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराया जाएगा और बहन-बेटियों को पीने के पानी के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा।