नरेला में हज़ारों बहनें कर रहीं हैं अपने भैया का स्वागत

0
118

भोपाल – नरेला में भाजपा प्रत्याशी विश्वास सारंग सघन जनसंपर्क कर रहे हैं। 13 नवंबर मंगलवार को श्री विश्वास सारंग ने छठी मैया को अर्ध्य देने के लिए पानी में उतर कर विधि विधान से पूजा की। इस पूजा में उन्होंने सिर पर प्रसाद से भरी बाँस की टोकरी जिसे दौरा भी कहा जाता है, को रखा था। उन्होंने करोंद, राजेंद्र नगर, एकतापुरी, वार्ड 44 के दुर्गा मंदिर और अन्ना नगर स्थित कुंडों पर जाकर पूजा अर्चना की। उल्लेखनीय है कि नरेला विधान सभा में छठ पूजा मनाने वाले बड़ी सँख्या में रहते हैं जो हर साल श्री विश्वास सारंग के साथ इस पर्व को पारिवारिक माहौल में धूमधाम से मनाते हैं।

इधर, जनसंपर्क के दौरान हज़ारों बहनें श्री विश्वास सारंग का स्वागत कर रही हैं। ‘हमारा परिवार नरेला परिवार’ और ‘नेता नहीं बेटा है, नरेला का चहेता है’, जैसे नारों के साथ श्री विश्वास सारंग का हर गली-हर घर में स्वागत हो रहा है। हर तरफ़ लोग भैया विश्वास का पुष्प वर्षा, तिलक लगाकर और आरती उतार कर स्वागत कर रहे हैं। इधर, श्री विश्वास सारंग भी लोगों से, युवाओं से और अपनी हज़ारों बहनों से ख़ुशी और उत्साह से मिल रहे हैं।

मंगलवार को श्री विश्वास सारंग ने वार्ड 37 में सेमरा मंडी से जनसंपर्क शुरू किया। कृष्णा नगर, विजय नगर, द्वारका नगर, रिद्धि सिद्धी, करारिया और आसपास के क्षेत्रों में सघन जनसंपर्क किया। यहाँ नवमतदाताओं ने विश्वास भैया से कहा कि वे मतदान के प्रति उत्साहित हैं और अपने जीवन का पहला वोट विश्वास सारंग को ही देंगे। इधर, युवाओें ने कहा कि विश्वास सारंग हमारे प्रेरणास्रोत हैं, विश्वास सारंग की उर्जा और कार्य करने की लगन के कारण हम उनके साथ हैं। वहीं क्षेत्र की महिलाओं ने श्री विश्वास सारंग को अपना बेटा और भाई बताते हुए कहा कि यह चुनाव, विश्वास सारंग नहीं हम सब लड़ रहे हैं, हमारा परिवार नरेला परिवार है। बहनों ने कहा कि विश्वास सारंग हमारे भाई हैं, हम सबने उन्हें राखी बांधी हैं और विश्वास भाई ने भी हर पल हमारा साथ दिया है। ऐसे में चुनाव में हम सब भैया के साथ हैं और उन्हें जिताने के लिए ही वोट करेंगे। इधर नरेला के हर घर में विश्वास सारंग का ज़ोरदार स्वागत हो रहा है। यहाँ घर-घर से महिलाऐं और युवा बाहर आए और श्री सारंग का फूल मालाओं से स्वागत किया। यहाँ स्थानीय महिलाओं ने कहा कि हमारे क्षेत्र में विश्वास सारंग ने कई विकास कार्य कराए हैं। पहले पानी मुश्किल से मिलता था, लेकिन अब घरों घर नर्मदा जल भरपूर मिल रहा है। पहले यहाँ कच्चा मार्ग था, लेकिन अब इस इलाक़े में हर गली और हर मार्ग पर मज़बूत सड़क बन चुकी है। बहनों ने बताया कि नरेला क्षेत्र में पाँच फ़्लाई ओवर बन रहे हैं। ड्रेनेज सिस्टम के कारण पानी की निकासी, सीवेज की निकासी और नाली-नालों के निर्माण से संपूर्ण नरेला क्षेत्र देश-प्रदेश में नंबर वन बन गया है, ऐसे कामों के साथ-साथ श्री विश्वास सारंग ने थीम पार्क, सरकारी अस्पताल और कालेजों के निर्माण एवं क्षेत्र के सौंदर्यीकरण की शुरूआत कराई है। लोगों ने कहा कि संपूर्ण नरेला क्षेत्र को परिवार मानने वाले विश्वास सारंग हमारे सुख-दुख के साथी हैं। हर त्योहार चाहे वह 15 अगस्त, 26 जनवरी हो या होली-दिवाली हर समय वे हमारे साथ रहते हैं।

इसके पूर्व श्री सारंग रोज़ाना की तरह मंदिर पहुँचे और हनुमान जी के दर्शन किये। उनकी दिनचर्या की शुरूआत पिता के चरण स्पर्श और मंदिर में हनुमान जी के दर्शन उपरान्त ही होती है। श्री सारंग मॉं की फ़ोटो भी सदैव साथ रखते है औेर किसी भी काम की शुरूआत से पहले मॉं को स्मरण ज़रूर करते हैं। श्री सारंग के जनसंपर्क के दौरान जीत के लिए जगह-जगह लोगों में उत्साह देखा जा रहा है। महिलाओं ने अपने-अपने घरों के सामने भैया विश्वास की जीत के लिए गुलाब और गेंदे की पंखुडियों से, तो कहीं रंगों से कमल के फूल व विभिन्न मनमोहक रंगोलियाँ बनाई हैं।