होशंगाबाद पुलिस की बडी कार्रवाई – 4 देशी पिस्‍टल के साथ एक युवक गिरफतार एक हुआ फरार

0
222

नवलोक समाचार सोहागपुर.

विधानसभा चुनाव के ठीक पहले होशंगाबाद जिले की सोहागपुर पुलिस ने बडी कामयाबी हासिल की है़ जिसके चलते मु‍खबिर की सूचना पर रामगंज वार्ड के रहने वाले नप्‍पू उर्फ न‍फीज खान पिता हफीज खान उम्र 37 साल को जब मडई ढावा के पास रोका तो बिना नंबर की मोटर साइकिल पर सबार आरोपी भागने लगा जिसका पीछा कर जब उसे पकडा गया तो उसके पास से एक देशी पिस्‍टल मय कारतूश के जप्‍त किया गया। आरोपी ने उक्‍त पिस्‍टल के बारे में बताया कि ग्राम प्रेमतला का जहांगीर पिता के एस अल्‍वी उम्र 35 वर्ष उसे बेंचने के लिये देता है।

जिला पुलिस अधीक्षक अरविंद सक्‍सेना के निद्रेश पर की गई कार्रवाई के बाद पकडे गये आरोपी को जब पुलिस ने रिमांड पर लिया तो उससे पास से 4 देशी पिस्‍टल 5 मेंगजीन ओर 26 जिन्‍दा कारतूस भी बरामद किये गये है। आरोपी के बताये अनुसार सभी शस्‍ञ जहांगीर अल्‍वी से लेकर जिले सहित बाहर के अपराधियो को बेचता था. उक्‍त सभी हथयार उत्‍तर प्रदेश झांसी से इटारसी सप्‍लाये किये गये है उसके बाद हथयार सोहागपुर में आते है. आरोपी ने बताया कि सभी पिस्‍टल 8 से 10 हजार में खरीद कर उन्‍हे 15 से 20 हजार में अपराधियो को बेंचा जाता है. एस पी सक्‍सेना ने बताया कि जहांगीर अल्‍वी के ठिकाने पर छापा मार कार्रवाई की गई तो वह परिवार के साथ ही फरार हो गया है. पुलिस की टीम जहांगीर अल्‍वी की तलाश में भोपाल भी भेजी गई है. फरार आरोपी जहांगीर के खिलाफ करीब 13 अपराध हत्‍या, हत्‍या के प्रयास. अडीबाजी आदि के दर्ज है. साथ ही आर्म्‍स एक्‍ट की कार्रवाई भी 3 बार हो चुकी है. वही पकडे गये आरोपी नफीज के विरूध भी इटारसी में चारी का अपराध दर्ज है. पुलिस मामले में पीआर लेकर पूछताछ कर रही है जिससे और भी नाम सामने आने की संभावना है. सोहागपुर थाने में आरोपियो के खिलाफ आर्म्‍स एक्‍ट की धारा 25 व 27 का अपराध्‍ा दर्ज किया है. एस पी अरविद सक्‍सेना ने बताया कि मुख्‍य सरगना जहांगीर को पकडने के लिये सभी प्रकार के प्रयास जारी है. शीघ्र ही उसे भी पकडा जायेगा उसके पकडे जाने के बाद और भी बडे खुलासे होने की उम्‍मीद है.

पुलिस टीम को इनाम – आरापी को पकडवाने पर भी इनाम

अवैध हथियारो के इस मामले को लेकर जिला पुलिस कप्‍तान अ‍रविंद सक्‍सेना ने बताया एसडीओपी अनिल ञिपाठी. टीआई अनूप नेन सहित एस आई नागेश कुमार वर्मा सहित स्‍टाफ को 10 हजार का ईनाम दिया जा रहा है. वही अवैध हथयार के सरगना जहांगीर अल्‍वी को पकडबाने के लिये भी 5 हजार की ईनाम घोषित किया गया है.