रसोई में इस्‍तेमाल होने वाला जीरा है बहुत उपयोगी ,जीरे के औषधीय गुण पहचानिए – गुण्‍ाकारी ही नही बहुत लाभकार भी है जीरा

0
124

नवलोक स्‍वास्‍थ्‍य

जीरा हमारी भारतीय रसोई का प्रमुख अंग है और यह भी नीम और आलू की तरह कुछ विशेष औषधीय गुणों को लिए है जिनके बारे में हमे जानना जरुरी है क्योंकि जैसा कि मैं अक्सर कहता हूँ हमे प्रकृति ने अपने आस पास ही पर्यावरण में बहुत सारे उपहार दिये है जो एक सुखद जिन्दगी जीने के लिए लाभप्रद है पर हमे उनकी पहचान नहीं है इसलिए हम उनके गुणों का भी उपयोग नहीं कर पाते है चलिए जीरे के औषधीय गुणों के बारे में बात करते है |
जीरा के गुण – रसोई में आम प्रयोग होने वाला जीरा लम्बे समय से औषधीय गुणों के लिए जानकारों द्वारा इस्तेमाल किया जाता रहा है जिसमे नेत्र से संबधित बीमारियाँ , गैस ,पित्त और बुखार जैसी बीमारियाँ मुख्य है और जीरे से –

• हम भूख नहीं लगने जैसी समस्या से पार पा सकते है और अगर आप भूख नहीं लगने जैसी समस्या है या खाना खाने का मन नहीं करता है तो आप अनार के रस के साथ इसका उपयोग कर सकते है | बड़ा लाभ मिलता है |
• बवासीर की तकलीफ में भी आराम पाया जा सकता है और अगर आप मिश्री के साथ इसे पीते है है या इसका लैप बनाकर लगाते है तो इस से जल्दी ही आराम मिलता है |
• बिच्छु के काट लेने पर शहद में जीरे के चूर्ण और नमक मिलकर डंक की जगह लगाने पर भी बड़ा आराम मिलता है |
• मोटापे जैसी सर्वव्यापी बीमारी में हींग जीरा और काले नमक को समान मात्र में मिलकर चूर्ण बनालें और इसे दिन में थोड़ी थोड़ी मात्र में दो बार दही या पानी के साथ लेने पर भी मोटापे में राहत मिलती है मोटापे से राहत पाने के लिए आप अधिक जानकारी के लिए यंहा पर क्लिक करके ये पोस्ट जरूर पढ़े |
• मिचली होने पर भी आप जीरे की सहायता ले सकते है और खासकर जब प्रेगनेंसी में मिचली होती हो तो एक काम करें निम्बू के रस में खटाई बनाकर उसमे जीर को mix करके देने पर मितली दूर हो जाती है | अगर ये समस्या बच्चो के साथ है तो समान मात्र में जीरा लॉन्ग कालीमिर्च और शक्कर को मिलकर चूर्ण बनाकर इसे शहद के साथ देने से बच्चो की ये परेशानी दूर हो जाती है |
• और तो और बुखार में भी जीरे का उपयोग किया जा सकता है अगर किस को बुखार है तो जीरे के साथ गुड को मिलकर 10 10 ग्राम सामान मात्र की गोलियां बना लें और एक एक गोली दिन में तीन से चार बार देने से शरीर के तापमन को कम करने में मदद मिलती है |
• इसके साथ ही जीरे के कुछ अन्य प्रयोग भी होते है जिनकी अधिक जानकरी होने पर आप हमे कमेन्ट के माध्यम से दे सकते है |