पन्ना में नीलगाय के शिकार के आरोप में 2 अरेस्ट

0
13

पन्ना टाइगर रिजर्व के जंगलों में  नीलगाय का हुआ शिकार, 6 शिकारियों पर नीलगाय के शिकार का है आरोप, नीलगाय के शिकार मामले 2 शिकारी पकड़े गए, नीलगाय का कटा सिर,खाल,फंदा तार और शिकार में उपयोग किया शस्त्र हुआ जब्त।

नवलोक समाचार, दमोह।  जिले के हटा वन परिक्षेत्र के पन्ना टाइगर रिजर्व के किशनगढ़ वन परिक्षेत्र और मड़ियादो वन परिक्षेत्र की सीमा पर कारीबरा और व्रजपानी के जंगल मे करीब आधा दर्जन शिकारियों ने करंट लगाकर नीलगाय का शिकार कर दिया, शिकार की सूचना मिलते ही किशनगढ़ व मड़ियादो वनपरिक्षेत्र की टीमों ने मौके पर पंहुचकर शिकार के आरोप में दो आरोपियों को पकड़कर इनके कब्जे से नीलगाय का कटा हुआ सिर खाल,अवशेष,फंदा,डोरी
कुल्हाडी सहित बड़ी मात्रा में वन्य जीवों के अवशेष सामग्री बरामद की है। पकड़े गए आरोपी झबर्रा थाना किशनगढ के बताए जा रहे हैं आरोपियों पर वन्य जीव अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की गई है। चार अन्य आरोपी मौके से फरार बताए गए हैं।

किशनगढ वन परिक्षेत्र अधिकारी राजेन्द्र सिंह नरगेस, कोर अधिकारी कैलाश बामनिया,मड़ियादो रेंज अधिकारी ह्रदेश हरि भार्गव की सँयुक्त कार्रवाई में पूरे मामले की जांच जारी है। वन अमले को झबर्रा गांव निवासी कुछ लोगों के द्वारा शिकार की सूचना मिली थी जिसके बाद वन अमले ने जंगल की सर्चिंग कर आरोपियों को पकड़कर मड़ियादो लाया गया जंहा पूरे मामले की जांच जारी है। पन्ना टाइगर रिजर्व से स्पेशल डॉग स्कॉउट की टीम भी बुलाई गई है। शिकारियों के मामले में अन्य खुलासे हो सकते हैं।