सिंगवाड़ा में शाला भवन निर्माण में भृष्टाचार मामले में हुई कार्रवाई

0
102
ग्राम सिंगवाडा में बनी शाला जो बनने के बाद से ही ख्‍स्‍ता हाल है.

सचिव के विरूद्ध रिकवरी हेतु आरआरसी जारी , उपयंत्री का आधा माह का वेतन कटेगा

मुकेश अवस्थी।

होशंगाबाद जिले की सोहागपुर जनपद क्षेत्र के ग्राम सिंगवाड़ा में सर्व शिक्षा अभियान के मद से बनाया गया स्कूल भवन बनने के बाद से ही खस्ताहाल हो गया था। स्कूल में बरसात के दिनो में पानी टपकता था, जिसके चलते शाला में पढऩे वाले छात्रो छाता लगाकर पढ़ाई करते थे, साथ ही छत जर्रजर्र हालत में होने के कारण बच्चो की जान को भी खतरा बना रहता है। उक्त शाला भवन के निर्माण में हुए भृष्टाचार की शिकायत सी एम हेल्प लाइन मेंं की गई थी, जिसके बाद होशंगाबाद जिला कलेक्टर द्वारा पी डब्ल्यू डी, आर ई एस और एक अन्य विभाग के एस डी ओ की टीम गठित कर जांच कराई, जिसमें भवन में गुणवत्ता हीन काम होना पाया गया था।

प्रकरण के चलते शिकायत एल 4 अधिकारी आयुक्त राज्य शिक्षा केंद्र  के समक्ष पहुंची, जिस पर कार्रवाई प्रस्तावित करते हुए तत्कालीन उपयंत्री मुकेश दुबे के  विरूद्ध कार्रवाई के आदेश जारी किए गए है, साथ ही तत्कालीन निर्माण ऐंजेसी ग्राम पंचायत निभौरा के सचिव साहब साहब सिंह पटेल के विरूद्ध एक लाख पचास हजार की रिकवरी हेतु आर आर सी प्रकरण जिला पंचायत को भेजा गया है। जिस पर धारा 92 की कार्रवाई करते हुए सचिव साहब सिंह से वसूली की जाएगी, रिकवरी राशि जमा नही करने पर वांरट जारी कर जेल भेजने की कार्रवाई की जा सकती है। साथ ही शाला भवन की मरम्मत हेतु कार्य योजना बनाने के आदेश भी आयुक्त राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा दिए गए है, जिस पर डी पी सी एस एस ठाकुर का कहना है कि शाला भवन की मरम्मत हेतु अगामी वित्त वर्ष में कार्ययोजना बनाकर कार्य काराया जाएगा। बता दें कि उक्त कार्यवाई लंबित सी एम हेल्प लाइन की समीक्षा के दौरान की गई है।  दरअसल ग्राम सिंगवाड़ा का शाला भवन सर्व शिक्षा अभियान अंतर्गत बनाया गया था, जिसमें  निर्माण ऐंजेसी  ग्राम पंचायत निभौरा थी और पंचायत का तत्कालीन सचिव साहब सिह पटेल था, जो अब ग्राम पंचायत गौड़ीखेड़ी का सचिव है और बिछुआ ग्राम पंचायत का अतिरिक्त प्रभारी भी है। वही तत्कालीन उपयंत्री मुकेश दुबे अब पिपरिया जनपद शिक्षा केंद्र में उपयंत्री के पद पर पदस्थ है।

इनका कहना है – आयुक्त राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा लंबित शिकायत में संज्ञान लेकर कार्रवाई की गई है, जिसमें उपयंत्री को दोषी माना गया है, उपयंत्री मुकेश दुबे की आधे माह का वेतन काटा गया है साथ ही सचिव साहब सिंह पटेल पर रिकवरी हेतु आरआरसी जिला पंचायत को जारी की गई है जहां से सचिव से वसूली की जाएगी।

सरदार सिंह ठाकुर  डी पी सी होशंगाबाद म प्र।