स्व सहायता समूहों को बैंक लिंकेज में जिला प्रदेश में प्रथम

0
4
धान उपार्जन और राशन वितरण कार्य में होशंगाबाद का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन,जिला प्रदेश में अव्वल, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की बेहतर कार्य के लिए होशंगाबाद की प्रशंसा
नवलोक समाचार, होशंगाबाद।  प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन में परिवहन के आधार पर तथा नवीन परिवारों को राशन वितरण में उल्लेखनीय कार्य के लिए एवं प्रदेश में पहले स्थान पर होने पर होशंगाबाद जिले की सराहना की। उन्होंने समूह की महिलाओं को बैंक लिंकेज प्रदान करने में बेहतर कार्य के लिए भी जिले की प्रशंसा की । मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर एवं जिला प्रशासन की पूरी टीम को बधाई दी।
      मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सोमवार 4 जनवरी को मंत्रालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न एजेंडों पर जिलेवार विस्तृत समीक्षा की। जिले के एनआईसी कक्ष में नर्मदापुरम कमिश्नर श्री रजनीश श्रीवास्तव, पुलिस महानिरीक्षक श्री जे एस कुशवाहा ,कलेक्टर श्री धनंजय सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री संतोष सिंह गौर एवं जिला पंचायत सीईओ श्री मनोज सरियाम उपस्थित रहे।
      उल्लेखनीय है कि जिले में 17 नवंबर से शुरू समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन कार्य का अच्छा क्रियान्वयन किया जा रहा है। कलेक्टर श्री धनंजय सिंह द्वारा लगातार खरीदी केन्द्रों का  मौका निरीक्षण तथा लगातार माइक्रो मॉनिटरिंग की जा रही है। उन्होने  सभी एसडीएम को अपने अपने क्षेत्रों  में उपार्जन केंद्रों का नियमित भ्रमण करने एवं उपार्जन कार्य की नियमित समीक्षा करने के निर्देश दिए गए है। साथ ही खरीदी केंद्रों में नियुक्त नोडल अधिकारियों द्वारा उपार्जन, परिवहन व भंडारण कार्य की लगातार निगरानी की जा रही है।जिले में अभी तक समर्थन मूल्य पर 12182 किसानों से 119234 मीट्रिक टन धान की खरीदी की जा चुकी है। साथ ही 115355 मीट्रिक टन धान का परिवहन किया गया है जो की कुल खरीदी मात्रा का 97 प्रतिशत है। किसानों को  175.63 करोड़ का भुगतान किया गया है। उपार्जन कार्य जिला में प्रदेश का अग्रणी है।
       इसी तरह कलेक्टर के निर्देशन में नवीन पात्रता पर्ची वितरण एवं राशन वितरण में बेहतर कार्य किया गया है। जिला प्रदेश में सिरमौर बना है। जिले में नवीन पात्रता पर्ची पर राशन वितरण में 13529  के लक्ष्य के  विरूद्ध 13275 परिवारों  जो कि कुल लक्ष्य के 98.12  प्रतिशत है, परिवारों को राशन वितरण कर दिसंबर माह की रैंकिंग में पूरे प्रदेश में जिला प्रथम स्थान पर रहा है। उल्लेखनीय है कि जिला नवंबर माह की रैंकिंग में प्रदेश में दूसरे स्थान पर रहा था।
    स्व सहायता समूह की महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए  वित्तीय वर्ष 2020 -21 में प्रशासन द्वारा बैंकों के माध्यम से जिले के 1305 स्व सहायता समूहों को 18 करोड़ 25 लाख रुपए का बैंक ऋण उपलब्ध कराया गया है। उपलब्ध ऋण के माध्यम से समूह की महिलाएं ना केवल कोरोना महामारी से उपजे वित्तीय संकट से उभर पाएंगी बल्कि उन्हें अपनी आजीविका सुदृढ़ करने में मदद मिलेगी।