पीएम मोदी ने बिहार के सासाराम से शुरू की पहली चुनावी रैली

0
16
फोटो - साभार नईदुनिया

पीएम मोदी ने बिहार की पहली चुनावी रैली में अनुच्छेद 370 का मुद्दा उठाया.

सासाराम। बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बिहार के सासाराम में पहली रैली को सम्बोधित किया। पीएम ने यहां पर कई मुद्दों को लेकर विपक्ष पर हमला किया , उन्होंने इस दौरान जम्मू-कश्मीर में विशेष दर्जा देने वाली आर्टिकल 370 हटाने के केंद्र के फैसले का भी जिक्र किया और कहा कि विपक्ष इस फैसले की आलोचना कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘सबको आर्टिकल 370 हटाए जाने का इंतजार था लेकिन ये लोग कह रहे हैं कि अगर वो सत्ता में आते हैं तो वो इस फैसले को पलट देंगे।

फोटो – साभार इंटरनेट

रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा, ‘एनडीए सरकार ने आर्टिकल 370 को हटा दिया. ये लोग कहते हैं कि अगर ये वापस सत्ता में आए तो इसे दोबारा ले आएंगे. ऐसे बयान देने के बाद ये लोग बिहार में वोट मांगने की हिम्मत कैसे कर सकते हैं? क्या यह बिहार का अपमान नहीं है? ऐसा राज्य जो अपने बेटे-बेटियों को सीमा पर सुरक्षा करने के लिए भेजता है।सासाराम। बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बिहार के सासाराम में पहली रैली को सम्बोधित किया।
पीएम ने कहा, ‘एनडीए सरकार ने आर्टिकल 370 को हटा दिया , ये लोग कहते हैं कि अगर ये वापस सत्ता में आए तो इसे दोबारा ले आएंगे। ऐसे बयान देने के बाद ये लोग बिहार में वोट मांगने की हिम्मत कैसे कर सकते हैं? क्या यह बिहार का अपमान नहीं है? ऐसा राज्य जो अपने बेटे-बेटियों को सीमा पर सुरक्षा करने के लिए भेजता है।

बता दे कि पिछले साल ही अगस्त में केंद्र की मोदी सरकार के इस फैसले का विरोध खुद नीतीश कुमार ने किया था. यहां तक कि उनकी पार्टी जनता दल यूनाइटेड के सांसदों ने संसद के दोनों सदनों में इसका विरोध किया था , एनडीए की सहयोगी होने के बावजूद नीतीश कुमार के इस स्टैंड ने सबको हैरान कर दिया था। हालांकि, इसके कुछ दिनों बाद ही नीतीश कुमार और उनकी पार्टी केंद्र के साथ ही लाइन पर आ गई।

जेडीयू नेताओं ने कहा कि उसने इस कदम का विरोध इसलिए किया था क्योंकि इसपर उससे चर्चा नहीं की गई थी, लेकिन चूंकि अब यह कानून बन चुका है, ऐसे में पार्टी इसका समर्थन करेगी. पार्टी के नेता आरसीपी सिंह ने पिछले साल अगस्त में कहा था कि ‘कश्मीर को मिला विशेष दर्जा खत्म हो गया है और अब हमने आर्टिकल 370 को पीछे छोड़ दिया है।
बता दें कि कि अगले हफ्ते होने वाले बिहार विधानसभा चुनावों के लिए हो रही चुनावी रैलियों में बीजेपी कई बार आर्टिकल 370 का मुद्दा उठा चुकी है. अभी दो-तीन दिन पहले ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिहार के जमुई, तरारी और पालीगंज में रैलियां कर रहे थे।
यहां पर उन्होंने कहा कि ‘पहले ऐसा था कि बिहार के इन हिस्सों का एक व्यक्ति कश्मीर में जमीन लेने की सोच भी नहीं सकता था. कांग्रेस ने ऐसी व्यवस्था कर रखी थी. लेकिन नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने यह सबकुछ बदल दिया। धारा 370 को हटा दिया गया है और अब लोग कश्मीर के किसी भी हिस्से में जमीन खरीद सकते हैं।

साभार एनडीटीवी ।