प्याज़ के भाव बढ़ने से बिगड़ा लोगो की रसोई का बजट

0
95
फोटो - साभार इंटरनेट

नवलोक समाचार। एक बार फिर प्याज़ ने लोगो के आंसू निकाल दिए है , प्याज के भाव मौजूदा समय 100 रुपये तक पहुच गए है। नाशिक से आने वाली प्याज़ की खेप न आने से होशंगाबाद , भोपाल हरदा सहित नरसिंहपुर ओर जबलपुर की सब्जी मंडी में तेज़ी आ गई है।

सरकार को गिराने की ताकत रखने वाली प्याज़ के भाव एक बार फिर आसमान छू रहे है, पिछले दिनों में राजधानी सहित आसपास के जिलों में प्याज 70 से 100 रुपये किलो तक बिक चुकी है, बताया जा रहा है कि इन दिनों नाशिक की प्याज़ मंडी में नही आ पा रही है और अ भी रही है तो बहुत कम मात्रा में , ऐसे में खतप ज्यादा है जिसके कारण दाम भी बड़े हुए है । थोक

फोटो – साभार इंटरनेट

व्यापारीयो का कहना है कि अच्छी प्याज का भाव 100 तक पहुच गया है वही हल्की प्याज़ 70 रुपये किलो बेची जा रही है। जानकारी के चलते होशंगाबाद हरदा सहित भोपाल और भोपाल के आसपास के सब्जी बाजारों में लोकल किसानों की प्याज़ नही आ रही है स्थानीय पैदावार प्याज़ की फसल को बेच चुके है स्टॉक भी नही है। ऐसे में अब महाराष्ट्र और कर्नाटक की प्याज़ के भरोसे ही मध्यप्रदेश के व्यापारियों की आस टिकी है । दरअसल मध्यप्रदेश में आलू के लिये तो कोल्ड स्टोरेज बनाये जाते है लेकिन प्याज़ का भंडारण बहुत कम मात्रा में किया जाता है, प्याज़ के भाव आसमान तक चढ़ने के बाद अब रसोई का बजट भी दीवाली के पहले बिगड़ने वाला है । बता दे कि प्याज के साथ साथ अब आलू भी 50 के पार पहुच गया है ऐसे में आम लोगो की जेब हल्की होगी ही , सब्जी का स्वाद भी फीका हो जाएगा।