पंचायत सचिव की जांच संदेह के घेरे में – जांच के बाद सीईओ द्वारा नही की गई कार्रवाई

0
113
भिलाडिया पंचायत भवन जिसमें कम्‍प्‍युटर , टी वी , पानी का टेंकर आदि सामान गायब है.

नवलोक समाचार, होशंगाबाद. जिले की सोहागपुर जनपद क्षेञ की भिलाडिया पंचायत सचिव लाल साहब प्रजापति द्वारा लापरवाही सहित पंचायत में पिछले दो सालो से कोई विकास कार्य न करने की शिकायत पर जून माह में जनपद पंचायत सीईओ श्रीराम सोनी द्वारा जांच तो की गई थी और जांच में लापरवाही सहित सचिव के विरूद्य अनियमिताए भी पाई गई थी, लेकिन आज दिनांक तक जनपद सीईओ द्वारा न तो जांच प्रतिवेदन जिला पंचायत भेजा गया और न ही सचिव के विरूद्ध कोई कार्रवाई की गई, जिसको लेकर सीईओ की कार्रवाई पर संदेह पैदा हो रहा है.

 बता दे कि यहां भिलाडि1या पंचायत के सचिव लाल साहब प्रजापति की लापरवाही और ग्राम पंचायत क्षेञ में किसी प्रकार कोई विकास कार्य नही कराने को लेकर सरपंच राजा बाई पटेल सहित ग्रामीणो ने एकजुट होकर सचिव की शिकायत की थी, लेकिज जून महीने में जांच करने पंचायत पहुंचे सी ई ओ श्रीराम सोनी द्वारा जांच में लापरवाही भी देखी साथ ही पंचायत से सामग्री गायब होना भी पाया लेकिज आज दिनांक तक सचिव के खिलाफ कोई कार्रवाई नही की गई. तीन महीने बीत जाने के बाद अब सी ई ओ की कार्रावाई पर संदेह पैदा होने लगा है. पिछले दो सालो से लगातार सचिव की मनमानी के चलते पंचायत में न तो मनरेगा के कोई काम कराए गए और न ही पंचायत में सी सी रोड या अन्‍य निर्माण कार्य कराए गए, इतना ही नही सचिव की मनमानी के चलते ग्राम वासियो का कहना है कि सचिव पंचायत भी नही आता है. ग्राम के लोगो का कहना है कि जनपद सी ईओ श्री राम सोनी और सचिव की सांठगांठ के कारण लापरवाही उजागर होने और पंचायत से लाखो का सामान गायब होने के बाद भी सचिव के विरूद्य किसी प्रकार की कार्रवाई न होना कई सवाल खड़े कर रहा है.

भिलाडिया पंचायत भवन जिसमें कम्‍प्‍युटर , टी वी , पानी का टेंकर आदि सामान गायब है.

—— बता दे कि  सोहागपुर जनपद पंचायत क्षेञ की कई पंचायतो में सचिवो द्वारा फर्जी बिल पंच परमेशवर और प्रिया साफट में लगाए जा रहे है साथ ही मनारेगा में भी फजीवाडा किया जा रहा है, उसके बाद भी जनपद पंचायत सीईओ सहित पंचायत के अन्‍य जिम्‍मेदार आधिकारी पंचायत सचिवो के खिलाफ कार्रवाई नही कर रहे है. जिसके चर्चा पूरे जिले भर में हो रही है. इतना ही नही ग्रामीणो द्वारा पंचायतो में किये जाने वाले निर्माण कार्यो की गुणवत्‍ता सहित पी एम आवास आदि में भी लापरवाही की जा रही है लेकिन इन पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नही की गई है।   ——– बता दें कि ग्राम पंचायत भिलाडिय़ा में पंचायत सचिव की मनमानी से पिछले दो सालो से किसी प्रकार का विकास कार्य अथवा निर्माण कार्य नही कराया गया , गांव में हालत ये है कि बरसात के पूर्व ही कीचड़ का अंबार लगा रहा, न तो नालियां बनाई गई और न ही पिछले सालो सें लंबित सी सी रोड बनाए गए। सचिव की लापरवाही से पंचायत भवन में न तो टी वी मिली और न ही पंचायत का कम्प्यूटर सी ई ओ द्वारा निरीक्षण के दौरान मिले। वही पंचायत को विधायक निधि से प्राप्त पानी का टेंकर भी पिछले सालो से गायव है, जिसकी जानकारी न तो पंचायत के सरपंच को है और न ही सचिव को। फिर  भी जनपद पंचायत के सी ई ओ द्वारा अभी तक सचिव से न तो नदारद सामग्री के विरूद्ध किसी प्रकार की वसूली प्रस्तावित  की गई ओर नही निलंबन प्रस्ताव जिला पंचायत भेजा गया।

उधर चर्चा के दौरान सी ई ओ श्री राम सोनी ने बताया कि निरीक्षण में अनियमिताए तो मिली थी, फिलहाल सचिव ने पंचायय में काम शुरू करवा दिया है। पंचायत में जो सामान नही मिला उसके सबंध में हम वेतन से राशि वसूली के प्रयास करेगे। लेकिन भिलाडिया पंचायत के लोगो ने बताया कि सचिव द्वारा किसी प्रकार का कोई निर्माण कार्य नही करवाया जा रहा. मामले को लेकर अब जिला  पंचायत सीइ्रओ मनोज सरियाम सहित जिला कलेक्‍टर को शिकायत की गई है.